PSC क्या है? PSC की पूरी जानकारी।

सिविल सर्विस एक सुनहरे भविष्य का सपना है जो वर्तमान में हर व्यक्ति देखता है, परन्तु इस सपने को साकार करने के लिए कड़ी मेहनत, तपस्या एवं लगन की आवश्यकता होती है। आज हम आपको बातयेंगे की हू PSC क्या है, और इस सपने को कैसे साकार किया जा सकता है। भारतीय संविधान अनुच्छेद 315(1) के अनुसार संघ लोक सेवा आयोग आयोजित के लिये PSC ( राज्य लोक सेवा आयोग ) की स्थापना की गई।

PSC का Full From PSC का पूरा नाम Public Service Commission अर्थात् लोक सेवा आयोग है। और यह अलग-अलग 2 स्तर पर अलग-अलग तरीकों से आयोजित की जाती है।

1 केन्द्र स्तर पर – UPSC- Union Public service Commission अर्थात् संघ लोक सेवा आयोग।

2 राज्य स्तर पर – राज्य स्तर पर यह दो तरीकों से आयोजित की जाती है- Joint PSC or State PSC.

Joint PSC – इसमें 2 या 2 से अधिक राज्य मिलकर परीक्षा आयोजित कराते है, और इसके नियम संबंधित राज्यो के परीक्षा बोर्ड मिलकर बनाते है।

STATE PSC – यह प्रत्येक राज्य द्वारा अलग अलग नियमो के साथ अपने अपने राज्यो में आयोजित कराया जाता है। आपको बता दे की किसी भी अभ्यार्थी को किसी भी राज्य की PSC परीक्षा में भाग लेने का अधिकार है।

अलग-अलग राज्य परीक्षा के नियम अलग अलग तरीकों से बनाते हैं जैसे उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ एवं राजस्थान की प्रारंभिक परीक्षा में नकारात्मक अंक  का प्रावधान है। जबकि बाकि राज्यों में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। इसी प्रकार बिहार, राजस्थान, में प्रारंभिक परीक्षा में एक ही प्रश्न पत्र ( सामान्य अध्ययन) होता है, जबकि मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और छतीसगढ़ में प्रारंभिक परीक्षा के दो प्रश्न पत्र होते हैं। पहला सामान्य अध्ययन का तथा दूसरा Csat का होता है। बता दे की झारखंड में दूसरा पेपर झारखंड के सामान्य ज्ञान का होता है। यह परीक्षा राज्य प्रशासन की भर्ती के लिए कराई जाती है।

इसके द्वारा निम्न पदो की भर्ती होती है जैसे- DSP, SDM, Commercial Tax Officer etc.

MPPSC –  (MPPSC) Pradesh Public Service Commission

परीक्षा के लिए योग्यता- अभियार्थी के पास भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त विश्ववद्यालय से डिग्री या उसके समकक्ष होना चाहिए।

MPPSC परीक्षा आयु सीमा – सामान्य वर्ग के लिए न्यूनतम आयु २१ वर्ष तथा अधिकतम आयु ३५ वर्ष है, तथा sc/st के लिए अधिकतम आयु में 8 वर्ष की छूट है।

MPPSC परीक्षा की प्रक्रिया – राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा प्रक्रिया ३ चरणों में संपन होती है –

१. प्रारंभिक परीक्षा (Priliminary Exam)

२. मुख्य परीक्षा (Mains exam)

३. साक्षात्कार (Interview)

1 Priliminary Exam : वस्तुनिष्ठ प्रकार

(1) प्रथम प्रश्न पत्र – सामान्य अध्ययन – 200 Marks.

(2) द्वितीय प्रश्न पत्र- CSAT (Qualifying 33%) – 200 Marks.

2 Mains Exam : लिखित

इसमें 6 प्रश्न पत्र लिखित होते हैं यह 1400अंकों का होता है।

(A) प्रथम प्रश्न पत्र- 300 अंक

इतिहास एवं संस्कृति, भूगोल, जल प्रबंधन, आपदा एवं आपदा प्रबंधन

(B) द्वितीय प्रश्न पत्र – 300 अंक

संविधान शासन की राजनीतिक एवं प्रशासनिक संरचना,
बाहरी एवं आंतरिक सुरक्षा के मुद्दे,
सामाजिक एवं महत्वपूर्ण विधान,
सामाजिक क्षेत्र स्वास्थ्य,
शिक्षा एवं सशक्तिकरण,
शिक्षण प्रणाली,
मानव संसाधन विकास,
कल्याणकारी कार्यक्रम,
लोक सेवाएं,
लोक व्यय एवं लेखा,
अंतरराष्ट्रीय संगठन।

प्रश्न पत्र 3- 300 अंक

विज्ञान, तर्क एवं अंको की संख्या, तकनीक, विकासशील तकनीक, ऊर्जा, पर्यावरण एवं धारणीय विकास, भारतीय अर्थव्यवस्था।

प्रश्न पत्र 4- 200 अंक

लोक प्रशासन में सदाचार एवं नैतिक मूल्य, दार्शनिक। विचारक सामाजिक कार्यकर्ता। सुधारक, मनोवृति, अभिरुचि। क्षमता, संवेगिक बुद्धि, भृष्ठाचार।

प्रश्न पत्र -5  सामान्य हिंदी – 200 अंक

प्रश्न पत्र -6 निबंध लेखन एवं गंधाश – 100 अंक

3 Interview (साक्षात्कार) – 250 अंक

Note- परीक्षा योजना में प्रथम चरण यानी प्रारंभिक परीक्षा मात्र Qualifying है, अंतिम रूप से मेरिट मुख्य परीक्षा एवं साक्षात्कार के अंकों को जोड़कर निर्धारित होती है।

सफलता की रणनीति (Strategy) –

दोस्तों आपको बता दें की सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता है, यह हम सभी अच्छे से जानते हैं, इसलिए किसी भी परीक्षा की तैयारी प्रारंभ करते से ही सर्वप्रथम उस परीक्षा की प्रकृति एवं प्रक्रिया को जानना बेहद जरूरी होता है और  बिना पूरी जानकारी के सिर्फ मेहनत करने से सफलता हासिल नहीं होती है।(SSC क्या है? SSC की पूरी जानकारी हिंदी में।) पीएससी की परीक्षा के लिए एक रणनीति बनाना अति आवश्यक है। तथा उस नीति को गंभीर रुप से पालन करना जरूरी है। Beggings को तैयारी करते से ही सर्वप्रथम 6 से 12 NCERT book का अध्ययन करना चाहिए तथा धीरे धीरे स्तर बढ़ाना चाहिए। तथा इस परीक्षा में सफलता के लिए न्यूज़पेपर एक अहम भूमिका निभाता है तो उसका भी प्रतिदिन अध्यन करें।

आशा करते है आपको ये जानकारी पसंद आएगी। मुझे बहुत खुशी होगी अगर आपको इस आर्टिकल से थोड़ा भी कुछ सीखने को मिला हो। अगर आपको ये जानकारी पसंद आये तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे… धन्यवाद।

ये भी पढ़े – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here