रम, व्हिस्की, वोदका, बियर, ब्रांडी, वाइन और शैंपेन में क्या अंतर होता है

रम, व्हिस्की, वोदका, बियर, ब्रांडी, वाइन और शैंपेन में क्या अंतर होता है – नमस्कार आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे की शराब कितने प्रकार की होती और इनमे क्या अंतर होता है। आपने रम, व्हिस्की, वोदका, बियर, ब्रांडी, वाइन और शैंपेन इन सभी के बारे में तो जरूर कभी न कभी सुना ही होगा, ये सभी शराब का ही एक रूप है या यूँ कह लीजिये की शराब ही है. लेकिन इतने सारे नाम सुनकर लोगो के मन में यही सवाल आता है कि शराब तो इतने तरह की आती है लेकिन इनमे अंतर क्या होता है, या फिर इनमे सिर्फ नाम भर का अंतर होता है. तो चलिए जानने की कोशिश करते है कि शराब कितने प्रकार की होती है और इनमे क्या अंतर होता है.

वैसे तो भारत में शराब के कई नामो से जाना जाता है जैसे की मंदिरा, शराब, दारू और सोमरस आदि. लेकिन इन सभी नामो का मतलब होता है कि ऐसा पेय पदार्थ जिसमे अल्कोहल मिला हो.

शराब को बनाने में कई चीज़ों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे की गेंहूँ, मक्का, जौ, गन्ना और कई फलों का भी इस्तेमाल किया जाता है. अलग अलग तरह की शराब बनाने में अलग अलग चीज़ों जैसे की बियर बनाने में गेंहूँ, जौ और मक्के का इस्तेमाल होता है इसी तरह दूसरी शराबों को बनाने में अलग अलग चीज़े इस्तेमाल में ली जाती है.

तो चलिये अब जानते है अलग अलग प्रकार की शराबों के बारे में.

1. बीयर (Beer)

इस मदिरा में अल्कोहल की मात्रा 3 से 30% तक होती है। लेकिन लाइट बियर में 4 और स्ट्रॉंग बियर में 8 प्रतिशत अल्कोहल की मात्रा का प्रयोग किया जाता है। जर्मन बियर पूरे संसार में सबसे बढ़िया बियर मानी जाती है। बता दे की बियर बनाने में मक्का, गेहूं, और जौ जैसे अनाजों का आंशिक रुप से किण्वन किया जाता है और फिर इसके बाद इसे अच्छी तरह बनाने में करीब 1 से 2 सप्ताह का समय लग जाता है।

beer
beer

2. वाइन (Wine)

वाइन ये भी शराब का एक प्रकार है और इस शराब को बनाने में फलों के रसों का इस्तेमाल किया जाता है जिसमें अंगूर प्रमुख फल है। बता दे की इसमें अल्कोहल की मात्रा करीब 9 से 18% तक हो सकती है। वाइन का उत्पादन फ्रांस में प्रमुख रुप से किया जाता है। वाइन को बियर के जैसे ही किण्वन करके तैयार किया जाता है। सामान्यतः वाइन को रंग के आधार पर रेड वाइन (Red Wine) और वाइट वाइन (white wine) में बांटा गया है।लेकिन वाइन का नामांकन अंगूर की क्वालिटी और उसके प्रकार के आधार पर किया जाता है।

wine
wine

3. व्हिस्की (Whisky)

आमतौर पर लोग व्हिस्की का सेवन काफी करते है, इसे बनाने में गेंहू और जौ जैसे अनाज का उपयोग किया जाता है। लेकिन इसे बनाने का तरीका बियर से थोड़ा सा अलग है क्योंकि इसे बनाने के लिए अनाज का आंशिक किण्वन नहीं किया जाता है बल्कि अनाज पूरा किण्वन करते है, साथ ही बाद में आसवन भी होता है। व्हिस्की में अल्कोहल की मात्रा ज्यादा होती है इसमें करीब अल्कोहल की मात्रा 30 से 65% तक हो सकती है।

व्हिस्की में एवरेज अल्कोहल की मात्रा 43% होती है। बता दे की व्हिस्की सामान्यतः 2 तरह की होती है जिसमे पहली है माल्ट व्हिस्की (Malt whiskey), माल्ट व्हिस्की को अंकुरित अनाज से बनाया जाता है जो अच्छी व महंगी होती है। इसके बाद दूसरी है ग्रेन व्हिस्की (Grain whiskey), इस तरह की व्हिस्की को बिना अंकुरित हुए अनाज से बनाया जाता। जानकारी के लिए बता दे की स्कॉटलैंड एक प्रमुख व्हिस्की उत्पादक देश है और यहां की व्हिस्की को स्कॉच (Scotch) कहा जाता है।

whiskey
whiskey

4. ब्रांडी (Brandy)

ब्रांडी नाम एक डच शब्द ‘ब्रांडीविज़न’ से आया है, जिसका मतलब है ‘जली हुई शराब। ब्रांडी को व्हिस्की को आसवित करके तैयार किया जाता है। बता दे की ब्रांडी में अल्कोहल की मात्रा 30 से 60% तक होती है। वैसे ब्रांडी का उत्पादन मुख्य रूप से यूरोपीय देश करते हैं।

Brandy
Brandy

5. रम (Rum)

ये भी शराब का एक प्रकार है और अधिकतर सर्दियों में लोग रम पीना पसंद करते है। रम बनाने में गन्ने का रस या शीरे को किण्वित व आसवित किया जाता है। रम में करीब 40 से 70% तक अल्कोहल होता है। रम का उत्पादन रूप से कैरेबियाई और लैटिन अमेरिकी (कोलम्बिया, गुयाना, वेनेजुएला, ब्राज़ील) देशों किया जाता है। बता दे की रम एक सस्ती शराब है।

Rum
Rum

6. वोदका (Vodka)

वोदका एक पारदर्शी और लगभग स्वादहीन शराब होती है। वोडका आलू से प्राप्य स्टार्च के किण्वन और आसवन से बनता है, लेकिन इसके अलावा इसे अनाज और शीरे से बनाया जाता है। बता दे की वोदका में अल्कोहल की मात्रा 40-60% तक होती है। वोदका का निर्माण मुख्य रूप से रूस और पूर्वी यूरोप के देशों में किया जाता है।

vodka
vodka

7. शैम्पेन (Champagne)

शैंपेन का नाम अक्सर जीत के जश्न के साथ जुड़ता है, और शैंपेन को खोलने और उसे एक दूसरे पर छिड़कने का नज़ारा भी बेहदआम है। लेकिन आपको बता दे की
शैंपेन एक तरह की वाइन है जिसे खासतौर पर फ्रांस के शैंपेन इलाके में ही बनाया जाता है। शैंपेन को बनाने में चारडोने, पिनोट नायर और पिनोट म्यूनियर अंगूर का उपयोग किया जाता है।

Champagne

इसके अलावा जिस शराब को हाथ से निकाला जाता है उसे हथकड़ भी कहा जाता है, इसे अवैध रूप से बिना मशीनों के बनाया जाता है। गांव में नारियल और महुआ से भी शराब बनाई जाती है। गोवा में फेनी नाम की शराब बनाई जाती है जो काजू से बनाई जाती है। ऐसे ही साके नाम की शराब को जापान में चावल से बनाया जाता है। इसी तरह मेक्सिको में अगेव नामक पौधे से टकिला शराब है।

बीयर, विस्की, ब्रांडी, जीन, महुआ, हंड़िया, चूलईया यह सभी शराब है क्योंकि इन सभी में अल्कोहल होता है और इन सभी से नशा होता है। हालाकिं इन सभी में अल्कोहल की मात्रा में अंतर जरूर होता है। इसके अलावा कई लोगो को लगता है कि शराब और बियर अलग अलग होती है यानि की बियर शराब नही होती है लेकिन ऐसा बिल्कुल नही है इसका कारण है कि इन दोनों में ही अल्कोहल होता है।

तो अब आपको अच्छे से समझ आ गया होगा की वाइन, व्हिस्की, रम, ब्रांडी, शैम्पेन, वोदका और बियर इन सब में क्या अंतर होता है। देखा जाये तो इनमे सब में मुख्य अंतर यह है कि इन्हें बनाने में अलग अलग अनाजों और फलों का इस्तेमाल किया जाता है और इनकी बनाने की विधि में भी थोड़ा अंतर होता है। तो आशा करते है आपके लिए यह जानकारी उपयोगी साबित होगी धन्यवाद….

ये भी पढ़े – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here