केसर इतना महंगा क्यों होता है जानिए हिंदी में।

नमस्कार, क्या आप जानते है कि केसर इतना महंगा क्यों होता है? आज हम जानेंगे केसर के बारे मे, की केसर इतना महंगा क्यों होता है, केसर की खेती कब होती है, केसर की खेती भारत मे कहा की जाती है। तो चलिए जानते है Why is Saffron So Expensive in Hindi

केसर इतना महंगा क्यों होता है जानिए हिंदी में।
केसर इतना महंगा क्यों होता है जानिए हिंदी में।

केसर के बारे में तो आपने सुना ही होगा ये खुश्बूदार पौधा होता है जिसे अंग्रेजी में Saffron सैफरन कहा जाता हैं। केसर को कंकुम या ज़ाफ़रान भी कहा जाता है। केसर को दुनिया का सबसे कीमती पौधा भी माना जाता है। केसर की खेती भारत के सीमित इलाके में की जाती है इसके अलावा भारत मे स्वादिष्ट पकवानों में केसर का इस्तेमाल किया जाता है साथ ही दूध एवं ठंडाई में भी केसर का काफी इस्तेमाल होता है।

केसर की खेती कहा होती है?

बता दे कि भारत मे केसर की खेती हर जगह नही होती है और कुछ सीमित जगहों पर ही केसर की खेती होती है, भारत मे केसर जम्मू के किश्तवाड़ में और कश्मीर के पामपुर (पंपोर) के सीमित क्षेत्रों में ज्यादा की जाती है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यहां के लोगो के लिए केसर किसी वरदान से कम नही है क्योंकि बाजार में 1 किलो केसर की कीमत करीब तीन से साढ़े तीन लाख रुपये तक होती है।

केसर इतना महंगा क्यों होता है?

हम सभी जानते है कि केसर बहुत मंहगा होता है लेकिन सवाल ये आता ही कि आखिर केसर इतना महंगा क्यों होता है, तो आपको बता दूं कि इसके महंगे होने कारण है कि इसे मशीन से नही बल्कि हाथों से ही निकाला जाता है। इसके अलावा केसर का जो फूल होता है वो बहुत ही कम समय के लिए खिलते है और यही कारण है कि इन्हें उसी दिन तोड़ा जाता है जिस दिन ये खिलते है। केसर का जो फूल होता है उसमें से सिर्फ तीन ही केसर के नाजूक धागे निकलते है और इस वजह से लगभग 75 हज़ार फूलों में से सिर्फ 400 ग्राम केसर ही मिलता है। इसके अलावा यह केसर का फूल दुनियाँ में बहुत ही कम जगह पर लगते है, तो इन कारणों की वजह से केसर इतना महँगा होता है।

केसर का जो फूल होता है उसे क्रोकस कहा जाता है ओर सबसे पहले इनके अंदर से केसर निकाला जाता है और फिर बाद में इन्हें सूखा दिया जाता है। बता दे कि केसर की खेती भारत मे सितंबर से दिसंबर के बीच की जाती है और भारत का कश्मीर अपने अच्छी गुणवत्ता वाले केसर के लिए दुनियाभर जाना जाता है।

इसके अलावा आपको बता दे कि हिन्दू धर्म में केसर का एक खास महत्व है और यही कारण है कि केसर का इस्तेमाल पूजा-पाठ में किया जाता है साथ ही केसर का तिलक लगाना भी शुभ माना जाता है ये दिमाग को भी ठड़ा रखता है। बता दे कि आयुर्वेद शास्त्र के अनुसार हर रोज थोड़ी मात्रा में केसर का सेवन करने से कई प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है। केसर का स्वभाव गर्म होता है और इससे पेट से संबंधित बीमारियों के इलाज में काफी फायदा मिलता है जैसे कि पेट दर्द, बदहजमी और पेट में मरोड़ और हाजमे से संबंधित शिकायतों में केसर का सेवन करने से फायदा होता है।

तो अब आपको अच्छे से समझ आ गया होगा कि केसर इतना अधिक महंगा क्यों होता है, तो आशा करते है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सांझ करे धन्यवाद….

ये भी पढ़े – 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here